पटना । राजधानी पटना के मसौढ़ी इलाके में स्थित स्टेट हाईवे-83 से गुजरने वाले ट्रकों से 50-50 रुपये अवैध रूप से वसूलने के आरोप में तीन दरोगा को सस्पेंड कर ‎‎दिया गया है।  इस मामले में दारोगा अरविंद कुमार सहित जिला पुलिस बल के दो जवानों प्रदीप कुमार रजक और अभिजीत कुमार को एसएसपी ने सस्पेंड कर दिया है। बताया जा रहा है कि हाथ में राइफल लेकर अवैध वसूली करने वाले ये तीनों पुलिस कर्मी मसौढ़ी थाने में पदस्थ थे। तीनों पुलिस कर्मियों के अलावा थाने की गश्ती गाड़ी के निजी चालक नीतीश कुमार के खिलाफ रंगदारी से रुपये वसूलने और अन्य धाराओं के अंतर्गत केस दर्ज किया गया है। पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने मामले में कार्रवाई की पुष्टि की है। 
एसएसपी शर्मा ने बताया कि इस तरह की शिकायत को गंभीरता से लेकर कार्रवाई की गई है। इसी बीच वहां से गुजर रहे कुछ युवकों की नजर वसूली कर रहे पुलिसकर्मियों पर पड़ी। ट्रक से लेकर हरेक छोटे-बड़े व्यावसायिक वाहनों को रुकवाकर पुलिस के जवान 50-50 रुपये वसूल रहे थे। पैसे लेने के बाद उसे गश्ती गाड़ी के आगे बने बॉक्स में रखा जा रहा था। उसमें हजारों रुपये इकट्ठा हो गये थे। यह सबकुछ देखने के बाद जब युवकों ने अपने मोबाइल का कैमरा पुलिसकर्मियों की ओर घुमाया तो वे भागने लगे। युवकों ने वहीं पर मौजूद एक निजी चालक को पकड़ लिया। पुलिस की गश्ती गाड़ी को चलाने वाला निजी चालक ही रुपये लेकर बॉक्स में रखा करता था। इस वीडियो को फेसबुक समेत अन्य सोशल मीडिया में वायरल कर दिया गया था, जिसके बाद कार्रवाई की गई है।