नई दिल्ली । विश्व की प्रतिष्ठित और मशहूर मोबाइल फोम निर्माता कंपनी ऐपल ने बड़े वर्चुअल इवेंट में अपना नया आईफोन 12 लाइनअप लॉन्च कर दिया है। कंपनी साल 2020 में एक साथ चार नए आईफोन 12 डिवाइसेज आईफोन 12 मिनी, आईफोन 12, आईफोन 12 प्रो और आईफोन 12 प्रो मेक्स लेकर आई है। कंपनी ने इस साल एक बड़ा बदलाव डिवाइस के बॉक्स में भी किया है, जो पहले से छोटा हो गया है। हो सकता है यह बात सुनकर ज्यादातर बायर्स को अच्छा ना लगे लेकिन आईफोन 12 सीरीज के किसी भी डिवाइस के साथ ऐपल चार्जर या हेडफोन नहीं दे रहा है। आप आईफोन 12 लाइनअप का कोई भी मॉडल खरीदें, आपको बॉक्स में केवल आईफोन यूनिट मिलेगा और उसके साथ वॉल चार्जर, हेडफोन्स या लाइटनिंग केबल नहीं दी जाएगी। कोई भी एक्सट्रा अक्सेसरीज ऐपल नए आईफोन 12 डिवाइसेज के बॉक्स में नहीं देना वाला है। यानी कि अब नया आईफोन 12 चार्ज करने के लिए अलग से चार्जर खरीदना होगा या फिर अपना फेवरेट म्यूजिक सुनने के लिए भी अलग से खर्च कर हेडफोन्स खरीदने पड़ेंगे। हालांकि, ऐपल के इस अनोखे फैसले के पीछे एक बड़ी वजह जरूर है।
ऐपल का मानना है कि जो आईफोन यूजर्स अपना डिवाइस अपग्रेड करते हैं, उनके पास पहले से ही चार्जर और हेडफोन्स होते हैं। ऐपल पर्यावरण के हित में यह कदम उठा रहा है कि क्योंकि हर साल ढेर सारा ई-वेस्ट या ई-कचरा पैदा हो रहा है, जिनमें ऐपल के चार्जर और लाइटनिंग केबल्स भी शामिल होते हैं। कंपनी हर नए डिवाइस के साथ चार्जर ना देकर इस वेस्ट को कम करना चाहती है। इवेंट के दौरान कंपनी ने बताया कि आईफोन 12 के रिटेल बॉक्स भी पहले से छोटे हुए हैं। इस तरह नया बदलाव पर्यावरण के लिए अच्छा है। ई-वेस्ट से जुड़ी रिपोर्ट्स की मानें तो हर साल लगभग 3 लाख टन चार्जिंग प्लग और केबल वेस्ट होते हैं। इवेंट में ऐपल की ओर से मेगसेफ चार्जर भी लॉन्च किया गया है, जिसे कंपनी की साइट और स्टोर से खरीदा जा सकेगा। ऐपल की ओर से बीट्स फ्लेक्स हेडफोन्स भी लॉन्च किए गए हैं। यूएसबी-सी चार्जिंग के साथ आने वाले इन हेडफोन्स की कीमत 50 डॉलर (करीब 3,700 रुपये) रखी गई है। साफ है कि आईफोन 12 बॉक्स में एक्सेसरीज ना मिलने के चलते इन हेडफोन्स और एयरपोडस की सेल भी बढ़ने वाली है।